[Steve jobs] Steve jobs biography in hindi

[Steve jobs] Steve jobs biography in hindi

Steve jobs biography in hindi
Steve jobs biography in hindi

नमस्कार मित्रो स्वागत है आपका हमारी एक और नई पोस्ट में इस पोस्ट में आप steve jobs biography in hindi जानेंगे ।

जैसा कि हम सभी लोग जानते हैं steve jobs का नाम दुनिया के सबसे महान व्यक्तियों की सूची में आता है, Steve jobs ने अपने जीवन मे बहुत संघर्ष किये, बहुत से उतार चढ़ाव देखें हैं। फिर भी उन्होंने अपनी मेहनत, अपने जज्बे के दम पर एक ऐसा मुकाम हासिल किया है जो कि किसी engineer का केवल सपना रह जाता जी हाँ दोस्तों उन्होंने Apple macbook का अविष्कार किया जो कि उनके जीवन का बहुत बड़ा अविष्कार है तो चलिए हम उनके जीवन के बारे में जानते हैं, जैसे - steve jobs का पूरा नाम क्या है, उनके माता पिता कौन हैं, उनके बच्चों के बारें में और भी बहुत कुछ।

Steve jobs biography in hindi

Steve jobs biography in hindi
steve jobs biography in hindi

पूरा नाम- स्टीव पॉल जॉब्स
जन्म - 24 फरवरी 1955
जन्म स्थान - सेंट फ्रांसिस्को,कैलिफोर्निया,संयुक्त राज्य अमेरिका
माता - कक्लॉरा जॉब्स
पिता - पॉल रेनहोल्ड जॉब्स
बच्चे-  रीड जॉब्स,आयलैंड सिएना जॉब्स,लिसा ब्रेनन जॉब्स, इव जॉब्स

Steve jobs इन अविष्कारों से भी जाने जाते हैं-

  • apple के फाउंडर
  • personal computer Mac बनाया
  • नेक्स्ट के फाउंडर

Steve Jobs biography in hindi

steve jobs biography in hindi
steve jobs biography in hindi

Steve jobs
दुनिया की सबसे प्रसिद्ध और Mobile की सबसे बड़ी कंपनी Apple के Founder हैं। इन्होंने अपने जीवन काल मे बहुत संघर्ष किया है, इनका बचपन संघर्षों से भरा पड़ा है,इन्होंने मात्र 56 साल की उम्र में इतनी बड़ी सफलता हासिल कर ली है। इन्होंने साबित कर दिया है कि अगर कोई भी इंसान जो चाहे वो पा सकता है और हाँ मैं आपको एक आश्चर्य की बात बताना चाहूँगा कि कुछ लोग कहते हैं कि मुझे अच्छे college में पढ़ने को नहीं मिला इसी वजह से जो में पाना चाहता था उसे नहीं पा सका,
क्या आप जानते हैं Steve jobs के पास कोई भी बड़ी degree नहीं और न ही उनकी college का अध्ययन पूरा हो पाया फिर भी उन्होंने अपनी मेहनत और लगन से सफलता प्राप्त कर ली है...वो कहते हैं ना
अगर किसी चीज़ को सिद्दत से चाहो तो पूरी,
कायनात उसे आपसे मिलाने में लग जाती है।

Steve Jobs का जन्म

steve jobs का जन्म 24 फरवरी 1955 में कैलिफोर्निया के सेंट फ्रांसिस्को में हुआ था,जब इनका जन्म हुआ तो इनके माता पिता का विवाह नहीं हुआ था Steve jobs के माता पिता एक दूसरे के करीब आ गए और इनका जन्म हुआ

चूंकि Steve jobs के पिता मुस्लिम थे और इनकी माता ईसाई थी, इनकी माता के पिता को ये रिश्ता मंजूर नहीं था इसिलए Steve jobs के जन्म के बाद इनके माता पिता ने इन्हें गोद देने का विचार किया और एक अच्छे घर वालो से बात हुई वे Steve jobs को गोद लेने के लिए तैयार हो गए लेकिन उन्होंने एक लड़की को गोद ले लिया।

फिर Steve jobs के माता पिता से एक पति पत्नी ने Steve Jobs को गोद लेने के लिए कहा लेकिन Steve jobs की माँ मना कर रहीं थीं क्योंकि जिस पति पत्नी ने उन्हें गोद लेने के लिए कहा वे ज्यादा शिक्षित नहीं थे,क्योंकि steve jobs की माँ चाहती थी कि स्टीव जॉब्स को अच्छी शिक्षा मिले और वो college भी जाये।

फिर उन पति पत्नी ने जो steve jobs को गोद लेना चाहते थे उन्होंने स्टीव जॉब्स की माँ को अस्वासन दिया कि वे उन्हें school भेजेंगे और अच्छी शिक्षा भी दिलाएंगे और फिर Steve jobs की माँ राजी हो गयीं।

Steve Jobs की नई माता का नाम क्लॉरा था जो कि एक अकाउंटेंट थीं और इनके पिता का नाम पॉल था जो एक Mechanic थे।

Steve Jobs को गोद लेने के बाद उनके माता-पिता(क्लॉरा और पॉल) 1961 में कैलिफोर्निया के माउंटेन व्यू में रहने लगे और इनके पिता ने जीवन यापन करने के लिए एक गैरेज खोल लिया वही पर वो काम करते इस गैरेज में Electronics का काम होता था,Steve Jobs को बचपन से ही Electronics में बहुत interest था ।

वो अक्सर किसी भी Electronics Gadegt या मशीन को खोलकर अलगकर फिर से जोड़ देते थे उन्हें ये करना बहुत अच्छा लगता था।
और धीरे धीरे समय के साथ उनका ये Interest बढ़ता गया।
और फिर यहाँ से Steve Jobs की शिक्षा प्रारंभ हुई और वे College जाने लगे। वे एक अच्छे विधार्थी थे। पर विद्यालय से उनका मन भर गया था उन्हें अपने उम्र के बच्चों से बात करना भी अच्छा नहीं लगता था, वे हमेशा कक्षा में अकेले बैठे रहते थे ज्यादा किसी से बात नहीं करते थे।

और फिर 13 वर्ष की उम्र में उनकी मुलाकात वोजनियाक नाम के लड़के से हुई वोजनियाक को भी Electronics में बहुत Interest था और जल्द ही दोनों अच्छे दोस्त बन गए।

Steve Jobs College career, Education

Steve jobs की कक्षा 9 तक कि शिक्षा उसी school में पूरी हो गयी थी, इसके बाद steve jobs का कक्षा दसवीं में एक नए College में दाखिला हो गया, इस नए college की फीस बहुत अधिक थी Steve jobs के माता पिता अपनी पूरी कमाई उनकी शिक्षा में लगा रहे थे कुछ दिन तक Jobs college जाते रहे और फिर उन्हें लगा मैं अपने माता पिता का पैसा बर्बाद कर रहा हूँ और मैं यहां से कुछ सीख भी नहीं पा रहा हूँ,फिर उन्होंने फैसला लिया कि अब मैं रोज college नहीं आऊंगा वो अपनी पसंदीदा Classess ही लिया करते थे।
  • चूंकि उस समय ये नियम था कि अगर आप college में एक Class लोगे तो आपको केवल उसी विषय की फीस देनी होगी।
College के दिनों में Steve jobs के पास इतने भी पैसे नहीं थे कि वे एक Room किराये पर ले सके इसिलए वो अपने मित्र के Room में जमीन पर सोते थे।

Steve Jobs प्राम्भिक Career,job

सन 1972 में Steve Jobs एक company में जॉब करने लगे कंपनी का नाम अटारी था यह एक Game Developing कंपनी थी इन्होंने कुछ समय तक इस कंपनी में काम किया और कुछ पैसे इकट्ठे कर लिए फिर इन्होंने इस Company को भी छोड़ दिया और भारत घूमने चले गए।
Steve Jobs ने भारत मे बौद्ध धर्म के बारे में अध्ययन किया और हिमांचल, उत्तरप्रदेश, दिल्ली आदि बसों में यात्रा की और सात महीने भारत मे गुजारने के बाद ये वापस अमेरिका लौट आये ।
अब Steve jobs पूरी तरह बदल चुके थे और उन्होंने फिर से उसी Company को फिर से जॉइन कर लिया और अपने परिवार के साथ रहने लगे। 

Steve Jobs founder of Apple (Apple history)

steve jobs biography in hindi
steve jobs biography in hindi

एक दिन Steve Jobs बाजार जा रहे थे तभी उनकी मुलाकात उनके घनिष्ट मित्र वोजनियाक से हुए वे बहुत खुश हुए। वोजनियाक एक अपना खुद का Computer बनाना चाहते थे और ये बात सुनकर स्टीव जॉब्स बहुत खुश हुए और वोजनियाक और Steve jobs ने मिलकर एक कंप्यूटर का निर्माण किया जिसका नाम Apple 1 रखा।
और फिर Steve Jobs ने वोजनियाक से कहा हम लोग एक ऐसी Company बनायेनंगे जो कंप्यूटर बनाकर बेचे फिर क्या दोनो मित्रों ने Jobs के Garage में Computer बनाने का काम सुरु कर दिया और दिन रात मेहनत की आखिरकार उन्होंने एक computer तैयार किया जिसका नाम एप्पल 2 रखा।

इसके बाद वोजनियाक और Steve jobs दोनों मित्र Inverstors के पास गए और अपना प्रोजेक्ट दिखाया और उन्हें Invest करने के लिए कहा,पब्लिक ने Apple 2 को ज्यादा पसंद किया और धीर धीरे ये Apple Company एक बहुत बड़ी Company बन चुकी थी और इसमें 1980 एक लगभग 4500 लोग काम कर रहे थे।

Steve jobs समय को बहुत कीमती मानते थे

जी हाँ दोस्तों आपने सही सुना कि Steve Jobs अपने समय को बहुत कीमती मानते थे, क्या आप जानते हैं कि Steve Jobs अगले दिन कुछ समय बच जाए इसीलिए रात में ही जूते पहनकर सो जाते थे,अगर आपको भी अपने समय का सही से उपयोग करना है तो आप हमारी Time management tips in hindi पोस्ट पढ़ सकते हैं।

Steve Jobs को Apple से बाहर निकाला गया

एक बड़ी और सफल company बनने के बाद एप्पल ने Apple 3 लॉन्च किया और इसके बाद Lisa लॉन्च किया।
पर Apple के ये दोनों नए Version फलाफ़ हो गए अथार्त चल नहीं पाए। फिर इसके बाद Steve jobs ने Macintosh (जिसे हम short में Mac कहते हैं) लांच किया इससे इन्हें सफलता हाथ लगी और market में ये बहुत चला।

इसके बाद एप्पल कुछ नए project पर काम कर रही थी लेकिन उसमें बहुत पैसा खर्च हुआ और जब इसे market में लाया गया तो ये काम चला क्योंकि ...
इन नए version के फ्लॉफ होने का सबसे बड़ा कारण ये था कि इस company के बनाये हुए computer का concept कभी छिपाया नहीं गया जिससे कि दूसरी कंपनी ने इनके concept को कॉपी करके कम price में कंप्यूटर लांच कर दिया और कंपनी को भारी नुकसान हुआ इसका जिम्मेदार Steve jobs को ठहराया गया और उन्हें मजबूरन company से स्तीफा देने को कहा गया।

इसके बाद 17 सितंबर 1985 को Steve jobs ने स्तीफा दे दिया और उनके कुछ साथियों ने भी स्तीफा दे दिया।

Steve jobs NEXT computer

Apple कंपनी से बाहर निकाले जाने के बाद स्टीव जॉब्स को समझ नहीं आ रहा था अब क्या करूँ वे बहुत परेसान थे, वे कहते हैं कि ये मेरा दुखदायी समय था, वो अपने आपको एक looser ज़मझ रहे थे।
वो सोच ही रहे थे तभी अचानक उन्हें एक विचार आया क्यों न इस मौके का फायदा उठाया जाए, मेरा काम छीना गया है न कि मेरी काबिलियत और Apple को कैसे बनाया गया मुझसे बेहतर ये कौन जानता है।
जब मैं Apple में था तब मुझे बहुत से काम होते थे लेकिन अभी में free हूँ मैं जो चाहूँ वो कर सकता हूँ।
और उन्होंने सोचा कि जैसे मैंने Apple को बिना किसी दबाव के बनाया था वैसे ही अब मैं काम करूंगा।
_____________________________________________
इसके बाद Steve jobs ने एक कम्पनी खोली जिसका नाम NEXT तब अब उन्हें एक बड़े इन्वेस्टर के तौर पर रोस पेरॉट मिले।
NEXT कंपनी का सबसे पहला प्रोडक्ट High and personal computer था।

12 अक्टूबर 1988 को NEXT computer एक बड़े event में लॉन्च किया गया और इसके बाद NEXT का पहला वर्कस्टेशन सन 1990 में सबके सामने आया।

इस वर्कस्टेशन में वी सभी खूबियां थी जो कि Apple और Lisa में थीं परंतु यह ज्यादा चला नहीं क्योंकि इसकी कीमत अधिक थी और लोग इसे खरीद नहीं पा रहे थे और एक बार फिर Steve jobs को भारी नुकसान हुआ लेकिन उन्होंने इस company को software बनाने वाली कंपनी बना टी जिससे कि उन्हें सफलता हाथ लगी।

Steve jobs bought a company [Pixer]

Steve jobs ने 1986 में एक Graphics design की company खरीदी जिसका नाम उन्होंने PIXER रखा।सुरुआत में इस company में 3D software बनाकर बेचे जाते थे, और 1991 में Pixer के पास disney की तरफ से एक आफर आया एक film बनाने का इसके बाद Pixer की सबसे पहली film Toy Story बनी फिर इसके बाद और भी बहुत सारी फ़िल्म बनी।

Steve jobs की Apple में वापसी [ Steve jobs came back to Apple]

steve jobs biography in hindi
steve jobs biography in hindi

धीरे धीरे समय बीतता गया और 1996 में Apple ने यह घोषणा कर दी कि वह 427 मिलियन डॉलर में NEXT को खरीदने वाली है और 1997 में ये deal फाइनल हो गयी और Steve Jobs की apple में पौंआ Ceo के पद पर वापसी हुई।इस समय Apple को नए विचारों और नए Product लॉन्च करने की जरूरत थी । और Steve jobs के कंपनी में वापस आते ही Apple ने ipod और itunes music software को लॉन्च किया ये दोनों product बहुत ही बिके और लोगों ने इसे बहुत पसंद किया और एक नर फिर Apple उसी ऊँचाई पर खड़ी हो गयी और दुनिया के सामने Apple की एक अच्छी इमेज बन गयी।
इसके बाद 2007 में Apple ने एक Mobile phone लांच किया जो कि लोगों के द्वारा बहुत ही पसंद किया गया और यह रातों रात बिक गया और अब Steve jobs एक बहुत प्रसिद्ध स्टार बन चुके थे उनका नाम 2000 के महान आविष्कारकों में नाम शामिल किया गया।

Steve jobs Death

steve jobs biography in hindi
steve jobs biography in hindi

Steve jobs Apple में लगातार अपनी मेहनत से काम कर ही रहे थे तभी उन्हें सन 2003 में पता चला कि उनके अग्न्याशय में ट्यूमर है कहने का मतलब उन्हें कैंसर हो गया था और उनका इलाज चलता रहा और सन 2004 में ट्यूमर को उनके अग्नासय से सफलता पूर्वक निकाला गया और परंतु आप तो जानते ही हैं कैंसर को पूरी तरह ठीक कर पाना थोड़ा सा मुश्किल होता है।

इस समय company का कारोबार Tim cook संभाल रहे थे steve jobs अभी भी लीव पर थे और सन 2009 तक Steve jobs स्वास्थ्य खराब होने पर भी काम करते रहे उन्हें अपने काम से प्यार था। 

सन 2009 में Steve jobs का स्वास्थ्य और बिगड़ने लगा और लीवर ट्रांसप्लांट की नौबत आ गयी उनका लीवर ट्रांस्प्लांट सफलता पूर्वक हो गया और सन 2011 में वे फिर से Apple company में वापस आकर काम करने लगे उनका शरीर अभी भी उनका साथ नहीं दे रहा था फिर भी वो काम करते रहे क्योंकि उन्हें अपने काम से बहुत प्यार था।
और 24 अगस्त 2011 को Steve jobs ने लिखित तौर पर स्तीफा दे दिया और Tim cook को Ceo बनाने के बारे में कहा...
और 5 अक्टूबर 2011 कैलिफोर्निया के पॉलो आल्टो में वे स्वर्ग सिधार गए।
STAY HUNGRY STAY FOOLISH

Conclusion

तो दोस्तों में आशा करता हूँ कि आपको हमारे द्वारा लिखी गयी Steve jobs biography in hindi, steve jobs career,steve jobs education पसंद आई होगी। कृपया अपना थोड़ा सा कीमती समय निकाल कर हमें Comment में जरूर बताएं कि आपको Steve jobs biography in hindi कैसी लगी और अगर आपको लगता है की Steve jobs biography in hindi को किसी के साथ share करना चजिये तो जरूर शेयर करें।

आपका Steve jobs biography in hindi  पढ़ने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद...

Tags:-steve jobs,jobs,steve,steve jobs apple,steve wozniak,steve jobs died,steve jobs movie,steve jobs trailer,steve jobs daughter,steve jobs (organization leader),steve jobs car,steve jobs obit,steve jobs dead,steve jobs sick,steve jobs kids,steve jobs wiek,steve jobs film,steve jobs lisa,steve jobs dying,steve jobs żona,steve jobs death,steve jobs wdowa,steve jobs quotes,steve jobs speech,steve jobs córka